Kuchh yaadein bachpan ki ❤️'s image
Poetry1 min read

Kuchh yaadein bachpan ki ❤️

Shobha KumariShobha Kumari September 20, 2022
Share0 Bookmarks 0 Reads1 Likes
बारिश की गीली मिट्टी-सी-सौंधी ख़ुश्बू बिखेरती हैं,
कुछ यादें बचपन की जब तन्हाई में मुझसे लिपटती हैं।
✍शोभा कुमारी❤️

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts