हालात's image
Share0 Bookmarks 83 Reads0 Likes
यूँ तो शब-ए-ग़म की सहर हो सकती है
मुस्कुरा देने से भी बात बन सकती है 

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts