महंगा बचपन's image
Share0 Bookmarks 87 Reads3 Likes

वो कच्ची सड़क, वो कच्चा रस्ता न रहा
बच्चों का मिट्टी से अब वो रिश्ता न रहा

इन महंगे बच्चों के तो महंगे-महंगे खेल हैं
बाज़ार में अब कोई खिलौना सस्ता न रहा

हंसना रोना खेलना पढ़ना सब ऑनलाइन है
किसी के पीठ पे किताबों का बस्ता न रहा

~ सावन

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts