सुनो बगुली's image
Share0 Bookmarks 77 Reads1 Likes

सुनो बगुली...
संसार घिसा हुआ जूता है
इसे दूर से ही देखनें में
ही भलाई है;
तली देखने से
सभ्यता के पांव
लड़खड़ाते हैं
फिर संभलने के लिए वह -
कहीं भी पैर रख सकती।
- सत्यव्रत रजक #स्वरचित_पंक्तियां
#सत्यव्रत_काव्य

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts