मुल्क's image
Share0 Bookmarks 24 Reads1 Likes

"यहां की सभ्यता पर सिर झुकाओ दोस्तों-यारों;

इस मुल्क का हर आदमी इक लाश लगता है मुझे।"
-


✍️ सत्यव्रत रजक

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts