माना कि ये सफ़र है लम्बा's image
1 min read

माना कि ये सफ़र है लम्बा

sandysoilsandysoil June 16, 2020
Share0 Bookmarks 105 Reads1 Likes

खमोशियों से दोस्ती इस क़दर न कर लेना,

कि दस्तक-ए-सहर भी सुनाई ना दे।

माना कि अंधेरों का ये सफ़र है लम्बा,

अंधेरों से दोस्ती इस क़दर न कर लेना,

कि शुआ-ए-सहर भी दिखाई ना दे।


*शुआ-ए-सहर - सुबह की किरण, उषा किरण, ray of morning

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts