ढल गया सूरज's image
Share0 Bookmarks 78 Reads0 Likes

ढल गया सूरज रात हुई,

नभ में तारों की चमक हुई,

हुआ अंधेरा जुगुनू चमके,

रह रह कर बिजली दमके,

चांद छिपा बदरी के अंदर,

फूलों की कलियां बनी छुई मुई,

ढल गया सूरज रात हुई ।

फिर सूरज पूरब से निकला,

धीरे धीरे सुबह हुई,

चिड़िया चहके उपवन महके,

नवजीवन की शुरुआत हुई ।।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts