हमसफ़र ❤'s image
Share0 Bookmarks 32 Reads0 Likes


  खुबसूरत था मंजिल,

   जिस रास्ते तुम मिले थे ।

   बेशक हसीन थे वह लम्हे

   जब तुम साथ चले थे।।


    कहानी बनती गई ,

    फासला मिटता गया।

    बातें बढती गई,

    वक्त थम सा गया ।।


    मजबूरी थी कुछ मगर ,

    प्यार बेशुमार था।

    एक सफर के लिए

    ही सही तु मेरा हमसफर था ।।




                                                     ऋतु 

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts