राज़'s image
Share0 Bookmarks 49 Reads0 Likes

चहरे पर चहरा, उस पर भी चहरा ,

न जाने लोगों ने कितने चहरे लगाए हैं ।

एक ही चहरा है हमारा,

जिसे भी पाकर हम पछताए है।

दिल में जो होता है हमारे,

चहरे पर नज़र आ जाता है।न जाने लोगों ने दिल में 

कितने राज़ छुपाए है ।




No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts