सुख के दीपक  [Sukh Ke Deepak ]'s image
Diwali PoetryPoetry1 min read

सुख के दीपक [Sukh Ke Deepak ]

rmalhotrarmalhotra October 27, 2022
Share1 Bookmarks 233 Reads2 Likes

सुख के दीपक हर घर में जलाओ

प्रेम और करुणा से दुख दूर हटाओ

शुभकर्मों से उज्ज्वल होगा नया सवेरा

भय, भ्रम व नफ़रत का मिटेगा अंधेरा

 

जीवन में चाहे लाखों दुख गम है

लेकिन पुरुषार्थ तुम्हारा क्या कम हैं

परिश्रम से जीवन होगा ख़ुशहाल

मुस्कुराहट के दीपक रोज जलाओ

 

प्रेम व अनुराग से अंतर्मन सजाओ

ईर्ष्या और द्वेष का अंधकार मिटाओ

सद्भावना से आलोकित जीवन होगा

हर्षोल्लास से दीपों का पर्व मनाओ

 

अधर्म पर धर्म की जीत निश्चित है

राह पकड़ सत्य की आगे बढ़ते जाओ

आनन्द और समृद्धि हो जीवन में सबके

ज्ञान से पथ आलोकित करते जाओ





राकेश की कलम से 

@RakeshMalhotra

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts