शुभारम्भ's image
Share0 Bookmarks 200 Reads1 Likes

क्षितिज पर नई एक प्रभात के साथ,

आइए नव वर्ष का शुभारम्भ करें। 

सकारात्मक सृजन और प्रेरणा के संग

नए सपनो और संकल्पों का अभिवादन करें।

 

समय यह हिम्मत से आगे बढ़ने का है,

जागृत मन में अपने आत्मविश्वास को करें।

जो बीत गया , सो बीत गया,

पश्चाताप में समय ना अपना व्यतीत करें।

 

कठनाईयों के अँधेरों से भयभीत निश्चय हो,

आशावादी सोच से प्रज्ज्वलित मार्ग अपना करें।

एक छोटी सी कोशिश, छोटे से एक कदम के संग

शानदार एक शुरुआत इस नव वर्ष में करें।

 

भाग्य और भगवान सदा कर्मवीरों के साथ है,

भविष्य के सारथि तो केवल अपने दो हाथ है।

फैला कर पंख आकाश में अगुआई नई सोच की करें

टूटे कभी जो विश्वास मजबूत उस बुनियाद को रखें।

 

वर्ष यह एक मित्र के जैसे मार्गदर्शक हमारा बने ,

लक्ष्यों को प्राप्त करने का दृष्टिकोण हमको नया मिले।

मन में हो करुणा, मददगार हम जरूरतमंदों के बने,

वसुंधरा को हम सद्भावना के पुष्पों से अवतरित करें।

 

स्वस्थ हो तन और मन,आनन्द जीवन में सबको मिले,

प्रगति के पथ पर हम सब मिलकर आगे बढ़े  

नफरत के लिए ना हो स्थान जग में कहीं कोई,

प्रेम और सद्भाव से हर चुनौती का सामना हम करें।


~ राकेश मल्होत्रा

@RakeshMalhotra

 


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts