मैं हिन्दी हूँ  [ Mai Hindi Hoon ]'s image
Hindi DiwasPoetry2 min read

मैं हिन्दी हूँ [ Mai Hindi Hoon ]

rmalhotrarmalhotra September 15, 2022
Share0 Bookmarks 116 Reads1 Likes

मैं हिन्दी हूँ ,

कब से चुप हू्ँ

आज कुछ कहना चाहती हूँ

मैं साहित्य का प्रवाह हूँ ,

कश्मीर से कन्याकुमारी तक 

अविरल बहना चाहती हूँ


मैं हिन्दी हूँ ,

भारत का हर शिशु मेरी संतान है

महत्व मातृभाषा का

उनको समझाना चाहती हूँ

मैं केवल नियमों में बंधी राजभाषा नही,

राष्ट्रभाषा बनकर

सम्पूर्ण राष्ट्र से मिलना चाहती हूँ

 

मैं हिन्दी हूँ ,

हिन्दुस्तान के हर आँगन में

हिन्दी का ध्वज लहराना चाहती हूँ

स्वर और व्यंजन की

अक्षत वर्ण माला से

भाषालेखन और उच्चारण का

स्तर ऊँचा उठाना चाहती हूँ


मैं हिन्दी हूँ ,

साहित्य और संस्कृति की

अमिट पहचान हूँ

अपनी दुर्दशा नही ,

भारत के जन गण मन में

अपना आदर सम्मान चाहती हूँ

 

मैं हिन्दी हूँ ,

केवल कक्षा आठ तक पढ़ाय

जाने वाला एक विषय नहीं ,

अपितु स्नातकोत्तर

विद्यार्थियों के ज्ञान का आधार

बनना चाहती हूँ


मैं अंग्रेज़ी के शब्दों में उलझे

हर जन से यह आवाहन

करना चाहती हूँ ,

हिन्दी में हस्ताक्षर करना करें आरम्भ,

हिन्दी को उसका गौरव

वापिस दिलवाना चाहती हूँ  


जो भूल गए है प्रेमचंद, पंत, निराला ,

प्रसाद और भारतेंदु को

उनको साहित्य की अपार धरोहर

लौटाना चाहतीं हूँ

मेघदूत, शकुन्तला का परिचय

नव पीढ़ी से करवाना चाहती हूँ


मैं हिन्दी हूँ ,

अज्ञेय, नागार्जुन और महादेवी

का अपमान नहीं सहना चाहती हूँ

और कब तक चुप रहूँ ?

आज कुछ कहना चाहती हूँ ,

अपनी ही संतान से वापिस

अपना सम्मान चाहती हूँ


राकेश की कलम से

@rakeshmalhotra

Rakesh Malhotra

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts