खुद से ही अनजान's image
Kavishala DailyPoetry1 min read

खुद से ही अनजान

RiturajRituraj September 30, 2021
Share0 Bookmarks 23 Reads0 Likes

खुद से ही खुद के बारे में पूछती हूं मैं??

खुद की ही तस्वीरें बनाकर मिटाया करती हूं मैं

खुद के ही सवालों मे खोई रहती हूं मैं

खुद से पूछती हूं

मेरे होने की क्या वजह है

खुदा का आशीर्वाद हूं मैं

      या

अभिशाप हूं मैं

खुद में यू उलझ सी जाती हूं मैं

ना सवाल खत्म होते ना जवाब मिलता

ऐ खुदा,

इतनी सी तो रहम कर

कुछ तो बता दे

मुझे खुद से मिला दे!!


-रितु राज

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts