मोहसिन  /  हैरान's image
Share0 Bookmarks 7 Reads0 Likes


कौन पूछता है , ग़म और आँसुओं का सबब ,

लोग हँसी का बहाना ढूंढते हैं ।

जमाने में सच्चा मोहसिन नहीं कोई ,

जिन्दगी में किसी की अफसाना ढूंढते हैं ।

- राजीव ' हैरान '

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts