मजदूर और आइना  ' हैरान ''s image
Kavishala SocialPoetry1 min read

मजदूर और आइना ' हैरान '

Rajeev Kumar SainiRajeev Kumar Saini May 1, 2022
Share0 Bookmarks 77 Reads0 Likes

आईना नहीं जो टूट कर बिखर जाता है, 

मजदूर जमाने को उसकी तस्वीर दिखाता है।

 - राजीव ' हैरान '

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts