जमाना कह गया  ' हैरान ''s image
Romantic PoetryPoetry1 min read

जमाना कह गया ' हैरान '

Rajeev Kumar SainiRajeev Kumar Saini May 28, 2022
Share0 Bookmarks 40 Reads0 Likes

ये दिल तुम्हारा ही होकर रह गया,

जो मैं न कह सका जमाना कह गया,

मैं तो पशोपेश मे ही पड़ा रहा,

ये बात इक पागल दीवाना कह गया ।

 - राजीव ' हैरान '

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts