दिल का चमन  ' हैरान ''s image
Romantic PoetryPoetry1 min read

दिल का चमन ' हैरान '

Rajeev Kumar SainiRajeev Kumar Saini January 14, 2022
Share0 Bookmarks 5 Reads0 Likes

तेरी यादों के गुल लेकर,

दिल का चमन बसाया था,

तेरी रानाइयों ने इसमें आबपाशी की,

तेरी मसर्रतों नें गुलों को रंगो बू बख्शा.

- राजीव ' हैरान '

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts