कोई नहीं तुम जैसा है (koi nhi tum jaisa h)'s image
MotivationalPoetry1 min read

कोई नहीं तुम जैसा है (koi nhi tum jaisa h)

Rajat Rohit RajputRajat Rohit Rajput November 7, 2021
Share1 Bookmarks 18 Reads1 Likes

Title :- कोई नहीं तुम जैसा है


जीवन मंच है अभिनय का ,

तो किरदार कहां तुम जैसा है

जीवन रण है गौरव का

तो वीर कहां तुम जैसा है

जीवन दमखम है दंगल का

तो पहलवान कहां तुम जैसा है

जीवन जंगल है जीवों का

तो शेर कहां तुम जैसा है

जीवन रास्ता है मीलों का

तो राहगीर नहीं तुम जैसा है

जीवन मेल है शब्दों का

तो लेख कहां तुम जैसा है

जीवन कविता है कवियों की

तो राग नहीं तुम जैसा है

जीवन प्यार है अपनों का

तो प्यार कहां तुम जैसा है

जीवन दौड़ है घोड़ों की

तो घुड़सवार कहां तुम जैसा है

जीवन महिमा है वेदों की

तो वेद कहां तुम जैसा है

जीवन उपवन है पेड़ों का

तो कोई पेड़ नहीं तुम जैसा है

जीवन वर्णन है आघातों का

तो प्रहार कहां तुम जैसा है

जो कहना था वो कह ही दिया

अब समझदार नहीं तुम जैसा है

अब तो समझ जाओ यार

की कोई नहीं तुम जैसा है


✒️ RAJAT ROHIT RAJPUT

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts