शायरी's image
Share0 Bookmarks 33 Reads0 Likes
चांद जब निकले तो चिरागों से कहो सो जाएं,
मुख्तसर ज़िंदगी में तमनाएँ ज़्यादा भी अच्छी नहीं ।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts