'शब्दबीज''s image
Share0 Bookmarks 64 Reads0 Likes

सितारे गिरते हैं/टूटते हैं/मिटते हैं/ बार-बार/

नई सम्भावनाओं की तलाश में/

हाँ सितारे टूटते हैं/ नया आकार पाने के लिए/

नये-नये /कवि-लेखक/ पनपते हैं/

धरती में छिपे/बीज की तरह/ निकल आते हैं/

समय आने पर/फूलते हैं/फलते हैं/और/

अंततः झरकर/अपना सबकुछ 'सुन्दर'/दे जाते हैं/

'बो' जाते हैं/ शाश्वत!शब्द-बीज/जो समय के साथ उग आते हैं/

सबके काम आते हैं/सार्थक/ हो जाता है जीवन!

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts