मन पावन कर लो's image
Poetry1 min read

मन पावन कर लो

R N ShuklaR N Shukla May 4, 2022
Share0 Bookmarks 76 Reads0 Likes
छोड़ो बीती बातें –
चलो  आज  मन पावन कर लो
 चंद्र–रश्मियों  संग तो  हँस  लो
  तन-मन सब न्यौछावर कर लो
   उर को ,  चंदन-सा शीतल कर लो  
    मन में बैठी , कटुता को तज लो
     अंजलि-अंजलिभर , मधु-रस भरलो
      चलो आज मन .....
      

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts