ज़िंदगी's image
Share0 Bookmarks 21 Reads0 Likes

नहीं सुलझाना कुछ मसले ज़िंदगी के

यार मैं इनमें उलझा हुआ ही ठीक हूंँ

×××

©पुरुषोत्तम


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts