हम ताज हैं हमारे......'s image
Poetry1 min read

हम ताज हैं हमारे......

$hukl@mbuj..$hukl@mbuj.. January 26, 2023
Share0 Bookmarks 149 Reads2 Likes
हर लम्हा मैं खुद में खोया सा रहूं 
किसी कि याद में जैसे संजोया सा रहूं , 
वो बात ही क्या जो किसी के गले भी न उतरे... 
उस हर बात में जैसे पिरोया सा रहूं,
कुछ ऐसी रही वो बात कि,
 मैं संभल न सका..
बिना कुछ सोचे जैसे मैं , 
सन्न था पड़ा...
आंसू तो नहीं थे , पर आंखो से रोया सा रहूं,
हर लम्हा मैं खुद में खोया सा रहूं.............................

                                           ~$hukl@mbuj..

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts