तरक्की's image
Share0 Bookmarks 111 Reads1 Likes

नज़रें मिलाने से जो कतराते रहें हैं,

बड़े अदब से गले लगाने लगे हैं..

तरक्की भी अजीब शय है यहाँ ,

तजुर्बे-ए-जिंदगी ये बताने लगे हैं..



No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts