आजादी's image
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes
पिंजडे सजे हों लाख रोशनी से;
परिंदे को उड़ान नहीं देते। 
आसमां घिरे हों लाख अंधेरी घटाओं से;
परिंदे की उड़ान नहीं लेते। 

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts