आदमी's image
Share0 Bookmarks 34 Reads1 Likes

#हरित_वाणी


आदमी वो है, जो छांव नहीं ढूंढता,

बल्कि कड़कती धूप में, पेड़ बन जाता है।


~ नितिन कुमार हरित

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts