तारिफ's image
Share0 Bookmarks 33 Reads0 Likes
सारे जग की तारीफ के हम मोहताज नहीं 
सारे जग की तारीफ किकी पढ़ जाती है माता- पिता और गुरू की एक ही तारीफ के आगे 

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts