" कभी कभी... ऐसा भी होता है "'s image
1 min read

" कभी कभी... ऐसा भी होता है "

Neena SethiaNeena Sethia February 21, 2022
Share0 Bookmarks 42 Reads1 Likes
"कभी कभी...ऐसा भी होता है." 

खुली आँखों से ख़्वाब.. देखती हूँ कभीकभी,
मन कहीं दूर.. अपने ख्यालों में उड़े जाता है,
याद आते हैं हादसे..बीती बातों के अचानक 
और दिल सिलसिलेवार उन्हें जोड़े जाता है. 

रफ़्तार कुछ इस कदर बढ़...गयी है जिंदगी की
कभी-कभी लमहें..बिन जिये..ही गुजर जाते  हैं. 

कभी कभी..ख़ामोशी...को भी सुनने का जी करता है,
बहुत कुछ कह जाती है.. अक्सर, कहीं वीरानों में. 

कभी कभी लगता है..जुनूनियत सी हो गयी है.. खुश रहने की..
अक्सर,हर हाल में.. मुस्कुराने की वज़ह ढूंढ़ लेती हूँ. 

मुझ में..और किस्मत में..
अक्सर एक जंग चलती रहती है,
कभी..मैं उसके फैसलों से तंग होती हूँ...
कभी..वो मेरे हौसले से दंग रहती है. 

कभी कभी यूँ...महसूस होता है...
नफरत की हर दीवार.. को ढह जाने दो,
यही वो मंज़र है.. जो दिलों में
मोहोब्बत को पनपने नहीं देता.
                 नीना सेठिया

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts