देश सुरक्षित है...'s image
International Poetry Day1 min read

देश सुरक्षित है...

Naresh KhinchiNaresh Khinchi June 16, 2020
Share0 Bookmarks 50 Reads0 Likes

ये मत सोचो की तुम घर में बंद हो

ये मत सोचो की तुम किसी मुसीबत में हो

ये मत सोचो की तुम्हें आज़ादी नहीं है

ये मत सोचो की तुम्हारा नुक़सान हो जाएगा।


सोचो कि तुम घर में सुरक्षित हो

सोचो कि तुम किसी मुसीबत में नहीं हो

सोचो कि तुम्हे वक्त बिताने की आज़ादी है

सोचो कि तुम कोरोना पीड़ितों से तो फ़ायदे में हो।


अब उनकी सोचो जो घर से बाहर असुरक्षित है

उनकी सोचो जिनको पता ही नहीं वो किस मुसीबत में है

उनकी सोचो जिनके पास ना वक्त है ना आजादी

उनकी सोचो जो बेवजह इस कोरोना से पीड़ित है।


शुक्र करो कि हमारा प्रशासन सुरक्षा में लगा हुआ है

शुक्र करो हमारी पुलिस इस मुसीबत से बचाने में लगी है

शुक्र करो हमारे डोक्टर जो पूरे वक्त आपकी सेवा में है

शुक्र करो हमारा देश अभी इटली या अमेरिका नहीं बना ।


व्यस्त रहो, स्वस्थ रहो, सुरक्षित रहो


▪️नरेश खींची

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts