जीवन मोल भाव नहीं's image
Share0 Bookmarks 72 Reads0 Likes

इंसान सोचता है बार -बार,

क्या खोया क्या पाया,

क्या जीवन मोल भाव के,

पैगाम पर चलता है,

जीवन तो संगीत का सरगम हैं,

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts