सादगी's image
Share0 Bookmarks 15 Reads0 Likes

भाषा की सादगी

चेहरे का भोलापन

अपना बना ले

तेरा सादापन


दूर तुझसे भला

जाए भी कैसे

खींचती है कशिश

सादगी की तेरी ।



मं शर्मा (रज़ा)


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts