रूसवाई's image
Share0 Bookmarks 18 Reads0 Likes

बहुत रूसवा किया तूने

ऐ ज़माने मुझ को

सोचता हूँ आज तुझको

मैं बदनाम कर दूँ


करदूँ बेपर्दा सरे बाज़ार

हकीकत तेरी

अपनी रूसवाईयों का

आज इंतकाम ले लूँ ।


मं शर्मा (रज़ा)




No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts