नकाब's image

अजब गजब सी दौड़ मची है

बस जीतने की होड़ लगी है

हर चेहरे पर नकाब चढ़ा है

विश्वास का दामन छूट रहा है

संबंधों में सच्चाई रही ना

हर रिश्ते का रंग उतर रहा है।


मं शर्मा (रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts