लब's image
Share0 Bookmarks 9 Reads0 Likes

लब खुले के खुले रह गए

बात कहते कहते रूक गए

दास्तां बहुत लंबी थी शायद

शब्द थोड़े कम रह गए ।


मं शर्मा(रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts