काश's image
Share0 Bookmarks 7 Reads0 Likes

काश पिता से कह पाता

उनके कहे शब्द

उनके जाने के बाद

समझ आए


सरल बातों के गूढ़ अर्थ

सब खोकर ही

सब होने का

मूल्य समझ पाए ।


मं शर्मा( रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts