इश्क's image
Share0 Bookmarks 12 Reads0 Likes

इश्क हुआ

सोचा न था

रास नहीं आयेगा

समझा न था


सोच समझकर

करने वालों ने

प्रेम नहीं

सौदा किया था ।


  मं शर्मा(रज़ा)


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts