हिचकी's image
Share0 Bookmarks 9 Reads0 Likes

यादों के कलैंडर से

मिट गए थे

जो पल छिन


हिचकियों संग

चले आये जहन में

बुलाए बिन ।


मं शर्मा (रज़ा)


#स्वरचित

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts