धड़कन's image
Share0 Bookmarks 5 Reads0 Likes

दिल की धड़कनों

धड़का करो

मेरी बेताबियों का

सबब न बनो

मैं अपने मन की भी

नहीं सुन रहा हूँ

मुझे अपना राग मत

सुनाया करो।


मं शर्मा (रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts