अल्फाज़'s image
Share0 Bookmarks 5 Reads0 Likes

भीगी भीगी पलकों के

भीगे भीगे अल्फाज़

आँखों की गली से

हौले हौले फिसल गए


खामोश संवादों का

एक मूक बवंडर

दिल की तलहटी में

तन्हा छोड़ गए ।


मं शर्मा (रज़ा)

#स्वरचित

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts