अजीज़'s image
Share0 Bookmarks 10 Reads0 Likes

वक्त अच्छा था

सब अच्छे थे

ज़रा सा बुरा हुआ

बहुत अच्छा हुआ

अजीज़ों के चेहरों से

कितने नकाब उतर गए ।


मं शर्मा (रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts