अदालत's image
Share0 Bookmarks 11 Reads0 Likes

वक्त की नज़ाकत समझ

किसका सिक्का चलता है

समय की अदालत में

उसी का कहा चलता है


ना गवाही है न सुनवाई

ना पैरवी न मुकदमा है

समय की अदालत है

समय ही फैसले करता है ।


मं शर्मा (रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts