दरवाज़े's image
Share0 Bookmarks 734 Reads0 Likes

सबके सामने नंगा होने का डर इतना बड़ा है

कि मैं घर हो गया हूँ—

दो खिड़की और एक छोटे-से दरवाज़े वाला

जहाँ से मुझे भी घिसट कर निकलना पड़ता है।

किसी के आने की गुंजाइश उतनी ही है

जितनी मेरे किसी के पास जाने की।

सबके अपने-अपने घर हैं

अपने-अपने डर हैं

इसलिए अपने-अपने दरवाज़े हैं।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts