बस छोड़ दे's image
Share0 Bookmarks 63 Reads0 Likes

बस छोड़ दे अब बुझ जाने दे मुझको

मैं राख सी उड़ना चाहता हूँ ।

मत डाल सुखी लकड़ी मुझ पर

मैं और नहीं दहकना चाहता हूँ ॥

~Manas akshar

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts