तमाशा's image
Share0 Bookmarks 49 Reads1 Likes

#ज़माना तैयार है सताने के लिए।

इक शब्द काफ़ी है रुलाने के लिए।।

#बता क्या करूँ तुझे बहलाने के लिए।

तमाशा बन जाऊं तुझे हँसाने के लिए।।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts