हुनर's image
Share0 Bookmarks 11 Reads0 Likes

#दिल नहीं लगता तो

क्यूँ ग़ुलामी करता है।।

#जी हजूरी किसी की

 अब मन नहीं करता है।।

#शायरी हुनर है रोज़गार नहीं

कहाँ इससे पेट भरता है।।

#उसूल हैं कुछ तेरे बेदख़ल

 नोकरी छोड़ ये हुनर पकड़ा है।।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts