अभिन्न तत्व- © कामिनी मोहन पाण्डेय।'s image
Poetry1 min read

अभिन्न तत्व- © कामिनी मोहन पाण्डेय।

Kamini MohanKamini Mohan March 26, 2022
Share0 Bookmarks 34 Reads1 Likes
संसार में अनेक व्यक्ति अनेक नाम और अनेक स्वभाव के विद्यमान हैं पर उन भिन्न-भिन्न प्राणियों में एक अभिन्न तत्व के रुप में ईश्वर उपस्थित है। 
- © कामिनी मोहन पाण्डेय।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts