बारिश's image
Share0 Bookmarks 145 Reads1 Likes

आज बारिश की बूंदों से,शहर सारा नहाया है।

न जाने कौन सा बादल,गगन पर आज छाया है।

हवायें भी कोई साज़िश रचाये,आज हैं बैठीं।

मचा तूफ़ान है दिल मे न जाने कौन आया है।


कामिनी मिश्रा

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts