फौजी's image

फौजी


चमक चल , दौङ चल 

          इन राहो के मजे जीत ले..

इन कन्धो पर चमकते सितारे , 

           कुछ रोशनी मे भी जीले..

अर्ज कर , फर्ज निभा

           कुछ तिरंगे के रंग लुट ले..

साथ तेरे चल रहा ,

           कुछ भाव मेरे तेरे सबके है ..

चल उड़जा , ये रात रोशन अब भी है

बेशक ......

          तुझे कीमत का मतलब पता है ,

          तभी तो सरहद जा लड़ा है..

 तु हर साँस पर खड़ा है ,

              तभी तो धरा रंगा है ...

कुछ खास है, कुछ अलग बात है

        और इनकी यादो के बड़े इतिहास है हालांकि....

इतिहास के कुछ किस्से दुखद है , 

लेकिन.....

उनकी समझदारी और बहादुरी से दुनिया विचलित है ।                                        


                                -Jaiश्री

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts