बस चलते जाना !'s image
Share1 Bookmarks 133 Reads1 Likes

बस चलते जाना !



राह में थक कर कभी रुक ना जाना,


हार कर कभी आँसु ना बहाना,


उम्मीदों को कभी तोड़कर ना जीना,


ये तो ज़िंदगी हैं साहब ,


हमें है बस चलते जाना।

कल को ना किसी ने देखा,


क्या होगा ये ना किसी ने जाना,


फिर निराश हो कर भला क्यों जीना,


ये तो जिन्दगी हैं साहब,


हमें हैं बस चलते जाना।

समय तो कभी ना रुका,


रुक जाते तो हम ही है सदा,


जिन्दगी की साँसे हो जब तक,


तब तक तु मत रुकना,


बस याद रखना,


ये तो जिन्दगी है साहब,


हमें है बस चलते जाना।


                          Composed by


                      -  Jaya Prajapati


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts