शहीद भगत सिंह (बहादुरी की मिसाल)'s image
International Poetry DayPoetry3 min read

शहीद भगत सिंह (बहादुरी की मिसाल)

JAGJIT SINGHJAGJIT SINGH September 28, 2022
Share0 Bookmarks 34 Reads0 Likes

जब भी इस देश की आज़ादी की बाद होगी ।

भगत सिंह जी की बात जरूर होगी ।


अपने देश को आज़ादी दिलाने को लिये भगत सिंह ने दिन रात एक किया ।

हंसते हंसते खुद को अपने और अपने दोनो साथियों राजगुरु और सुखदेव के साथ मिलके देश के लिये कुर्बान किया ।


आज ही के दिन भगत सिंह जी का जन्म था हुआ ।

एक बार सोचते तो होंगे भगत सिंह जी भी जिस देश के लिये हमने अपनी जान कुर्बान कर दी आज उस देश का क्या हाल हुआ ।


आज भगत सिंह जी के गांव खटकड़ कला में बड़ी धूम धाम से भगत सिंह जी का जन्मदिन मनाया जायेगा ।

चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम आज से भगत सिंह जी के नाम से लिया जायेगा ।


भगत सिंह जी को उर्दू भाषा में महारत हासिल थी ।

भगत सिंह जी ने हर बार ज़ुल्म के आगे बगावत की थी ।


भगत सिंह जी ने कभी भी अपनी जान की परवाह नहीं की थी ।

अपने देश को अंग्रेजों से आज़ादी दिलाने की भगत सिंह जी ने शपथ ली थी ।


भगत सिंह सिर्फ़ 12साल के थे जब जलियांवाला में कितने मासूमों का खून हुआ था ।

ये सुनके और देख कर भगत सिंह जी का दिल बहुत आहत हुआ था ।


उस कांड ने बाद तो भगत सिंह जी के दिल में आग लगा दी ।

भगत सिंह जी ने तो अपने साथियों के साथ अंग्रेजो के खिलाफ़ जंग की घोषणा कर दी ।


आज के ज़माने में कोई बच्चा भगत सिंह जैसा नहीं बन सकता ।

भगत सिंह जी जैसा बनना तो दूर की बात है कोई युवा

कुछ देर तक उनकी बातें तक नहीं सुन सकता ।


आज हमारे देश का युवा किस रास्ते पे जा रहा है ।

हमारे लिये जिन्होंने अपनी जान तक दे दी उन शहीदों को इस देश का युवा भूलता जा रहा है ।


भगत सिंह और उनके साथियों की कोई युवा बात तक नहीं करता ।

 सलमान खान की शादी कब होगी ऐसे सवाल आज कल का युवा हर रोज़ जरूर करता ।


बच्चों और युवाओं को शहीदों के बारे में बताया क्यों नहीं जाता ।

कई स्कूल कॉलेज में तो हमारे शहीदों के बारे में पढ़ाया नही जाता ।


लिखना तो सनी को प्रभु,नीलू दीदी और मेरी मां के द्वारा सिखाया जाता

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts